Saturday, October 23, 2021
Home तथ्य निःशुल्क कंप्यूटर परीक्षण के लिए इच्छुक अभियर्थियों तहसील कल्याण अधिकारी अथवा जीनियस...

निःशुल्क कंप्यूटर परीक्षण के लिए इच्छुक अभियर्थियों तहसील कल्याण अधिकारी अथवा जीनियस कंप्यूटर सेन्टर आनी के कार्यलय में छह सितंबर तक आवेदन करें

आनी, मधु शर्मा
समाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग-निदेशालय अनु० जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक एवं विशेष रूप से सक्षम का सशक्तिकरण के लिए निःशुल्क कम्पयूटर प्रशिक्षण दिया जा रहा है। पहले इसके आवेदन 22 अगस्त तक लिए जा रहे थे सरकार ने इसके आवेदन आमंत्रण के लिए छह सितंबर तक तारीख बढ़ा दी है, इछुक आवेदक अपना आवेदन पत्र दाखिल कर सकता है। वर्ष 2021-22 में सामाजिक न्याय एवम अधिकारिता विभाग, निदेशालय अनु० जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक एवं विशेष रूप से सक्षम का सशक्तिकरण, हिमाचल प्रदेश द्वारा ‘कम्पयूटर एप्लीकेशन व समवर्गी किया-कलापों में प्रशिक्षण एवं दक्षता’ योजना के अन्तर्गत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक, विधवा, एकल नारी व विशेष रूप से सक्षम से सम्बन्धित उम्मीदवार जिन की आयु 18 वर्ष से 35 वर्ष के मध्य हो तथा गरीबी रेखा से नीचे रह रहे चयनित परिवारों के सदस्य हों या जिनके परिवार की वार्षिक आय 2,00,000/- रुपये से कम हो से निम्नलिखित प्रशिक्षण हेतु जीनियस कंप्यूटर एंड ट्रेनिंग सेंट्रर आनी और तहसील कल्याण अधिकारी के कार्यलय में आवेदन आमन्त्रित किये जा रहे हैं । इसके लिए न्यूनतम योग्यता शैक्षणिक योग्यता जमा दो पास होना चाहिए। इस प्रशिक्षण करने की अवधि एक वर्ष रहेगी और छह माह तक सरकारी कार्यलय में इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग होगी। इसके लिए ट्रेनिंग करने वाले छात्र व छात्राओं को मासिक 1000 और 1500 रुपये ट्रेनिंग के दौरान मिलेगा। उक्त कंप्यूटर कोर्स के लिए जानकारी नीचे दी गई। 1.उपरोक्त कोर्स NIELIT (राष्ट्रीय ईलैक्ट्रोनिकस व सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान) संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मन्त्रालय भारत सरकार की एक स्वायत वैधानिक संस्था तथा C-DAC (सेन्टर फोर डैवेल्पमेंट ओफ एडवांसड कम्पयूटिंग) के माध्यम से करवाये जायेंगे सभी कोर्स 10.09.2021 से आरंभ होंगे।

  1. कमांक 1,2 पर दर्शाये गए कोर्स सभी जिला मुख्यालयों (सिवाये लाहौल स्पीति) पर दिया जायेगा।
  2. प्रशिक्षण कार्यक्रम जिला मुख्यालय स्तर पर आयोजित किया जायेगा। जिला लाहौल स्पीति से सम्बन्धित अभ्यार्थियों को प्रशिक्षण क्रमशः कुल्लू में दिया जायेगा।
  3. चयनित उम्मीदवार को प्रशिक्षण से पूर्व एक बॉण्ड भरना होगा कि वह प्रशिक्षण को बीच में नहीं छोड़ेंगे तथा कोर्स पूरा करने पर वार्षिक परीक्षा में भाग लेगा तथा प्रशिक्षण को बीच में छोड़ने पर प्रशिक्षण कार्यक्रम पर हुये खर्च तथा छात्रवृति की राशि विभाग को लौटानी होगी।
  4. प्रशिक्षण अवधि के दौरान अभ्यार्थियों को रहन-सहन तथा खान-पान पर खर्च स्वयं वहन करना होगा।
  5. प्रशिक्षण अवधि के दौरान प्रशिक्षण फीस विभाग द्वारा प्रस्तावित राशि अनुसार वहन की जायेगी।
  6. प्रशिक्षण अवधि के दौरान अभ्यार्थियों को 1000/- रुपये प्रतिमाह छात्रवृति (1200/- रूपये प्रतिमाह विशेष रूप से सक्षम छात्रवृति) दी जायेगी बशर्ते कि उसने प्रत्येक मासिक टैस्ट में 50 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हो तथा मासिक उपस्थिति 85 प्रतिशत से कम न
  7. प्रशिक्षण समाप्ति पर अभ्यार्थी को वार्षिक परीक्षा में भाग लेना होगा तथा परीक्षा शुल्क 50:50 के अनुपात में विभाग तथा अभ्यार्थी द्वारा वहन किया जाएगा।
  8. इस प्रशिक्षण कोर्स के आधार पर किसी विश्वविद्यालय/संस्थान में आगामी कोर्स में प्रवेश के लिये
    विभाग की कोई जिम्मेवारी नहीं होगी।
  9. उतीर्ण प्रशिक्षणार्थी को प्रशिक्षण समाप्ति तथा परिणाम आने के पश्चात, एक साल के भीतर-भीतर, छ: माह के लिये सरकारी/गैर सरकारी संस्थाओं/कार्यालयों में कार्य करके कम्पयूटर एप्लीकेशन में प्रवीणता हासिल करनी होगी जिसके लिये उसे प्रातः 10:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक सरकारी कार्यालय में उपस्थित रहना होगा और इस अवधि के दौरान उसे 1500/-रू0 प्रतिमाह छात्रवृति (1800/- रूपये प्रतिमाह विशेष रूप से सक्षम छात्रवृति) दी जायेगी।
  10. प्रशिक्षण उपरान्त प्रशिक्षणार्थीयों को नौकरी उपलब्ध करवाने का कोई भी दायित्व विभाग का नहीं होगा।
    इच्छुक उम्मीदवार अपने आवेदन सादे कागज पर सम्बन्धित जिला कल्याण अधिकारी अथवा जीनियस कंप्यूटर सेन्टर के कार्यलय में अपने दसवीं, 10+2 तथा स्नातक कक्षा के प्रमाण-पत्र /जाति प्रमाण पत्र/ सम्बन्धित पंचायत सचिव से जारी बी०पी०एल० प्रमाण पत्र (जो छ: माह के भीतर जारी किया हो) जो आवेदक बी०पी०एल० परिवार में चयनित नहीं हैं, वह अपना आय प्रमाण पत्र जो नायब तहसीलदार से कम रैक के अधिकारी द्वारा जारी न किया गया हो/ हिमाचली प्रमाण-पत्र की सत्यापित प्रतियां दिनांक 06-09-2021 तक प्रस्तुत करने होंगे। अधिक जानकारी के लिये सम्बन्धित जिला कल्याण अधिकारी / तहसील कल्याण अधिकारी से सम्पर्क करें ।
RELATED ARTICLES

निःशुल्क कंप्यूटर परीक्षण के लिए इच्छुक अभियर्थियों तहसील कल्याण अधिकारी अथवा जीनियस कंप्यूटर सेन्टर आनी के कार्यलय में 22 अगस्त तक आवेदन करें

आनी, मधु शर्मासमाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग-निदेशालय अनु० जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक एवं विशेष रूप से सक्षम का सशक्तिकरण के लिए निःशुल्क कम्पयूटर...

हिमाचल स्कूल फिर से खुला: एक बेंच पर एक ही छात्र बैठेगा

आने का समय भी अलग होगा कोरोना महामारी के खतरे के बीच हिमाचल स्कूल फिर से खुला, कक्षा 10वीं से 12वीं तक के स्कूल...

दो नदियों के बीच स्थित मांड की सुध नहीं ले रही सरकार

आज तक नहीं हुआ पक्के पुल का निर्माण विधानसभा क्षेत्र इंदौरा का मांड क्षेत्र जिसके साथ विकास को लेकर सरकारें भेदभाव करती रही हैं।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

आनी वश्ता रोड पक्का नही हुआ तो करेगे चुनावों का बहिष्कार

आनी: आनी वश्ता रोड का कार्य लगभग पिछले चार दशकों से चला रहा है जो आज दिन तक पक्का नही हुआ , लोगो मे...

खनाग स्कूल के विद्यार्थियों को गेस्ट लेक्चर से मिले आधुनिक शिक्षा के गुर

आनी: मधु शर्मा, आनी उपमंडल के शिखर पर स्तिथ जलोड़ी पास के साथ लगते राजकीय बरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय खनाग के छात्रों ने वोकेशन शिक्षा...

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने उच्च न्यायालय के अधिवक्ता दीपक शर्मा सुंफा को उप चुनाव से संबंधित एक अहम जिम्मेवारी सौंपी।

हिमाचल प्रदेश में हो रहे उपचुनाव के लिए हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने रामपुर बुशहर से संबंध रखने वाले एडवोकेट दीपक शर्मा सुंफा को...

कांग्रेस ने जारी किया उपचुनाव के लिए प्रत्याशी

बिग ब्रेकिंग - मंडी से प्रतिभा सिंह, अर्की से संजय अवस्थी, फतेहपुर से भवानी पठानिया और जुब्बल कोटखाई से रोहित ठाकुर होंगे कांग्रेस के...

Recent Comments