Wednesday, October 20, 2021
Home Uncategorized महादेव को प्रसन्न करने के लिए सावन का महीना सबसे उत्तम माना...

महादेव को प्रसन्न करने के लिए सावन का महीना सबसे उत्तम माना गया है.

Sawan Somvar 2021: महादेव को प्रसन्न करने के लिए सावन का महीना (Sawan Month) सबसे उत्तम माना गया है. शिवपुराण (Shiv Puran) के रुद्रसंहिता में बताया गया है कि सावन के महीने में हर रोज जो भी सच्चे मन से शिव के इन पांच मंत्रों को जप करता है, उस पर हमेशा शिवकृपा बनी रहती है. आज सावन महीने का पहला सोमवार है. सावन में इन मंत्रों के जप से भगवान शिव अपने भक्तों को जीवन मरण के चक्र से मुक्त कर देते हैं क्योंकि शिव सृष्टि के संहारक भी हैं और पालक भी. सावन में भगवान शिव ही सृष्टि का संचालन करते हैं. आइए जानते हैं इन पांच शक्तिशाली मंत्रों के बारे में.

ओम त्र्यंबकम याजमाहे सुगंधिम पुष्ठी वर्धनम

उर्वारुकैमिवा बंधनाथ श्रीमती सुब्रमण्यमशिवपुराण

में सावन के महीने में महामृत्युंजय मंत्र का जप करने का विशेष महत्व बताया गया है. इस मंत्र के जप से संसार के सभी कष्टों से मुक्ति मिल जाती है और सभी पाप नष्ट हो जाते हैं. साथ ही इसका जप करने से मृत्यु के भय और जीवन-मरण के चक्र से मुक्ति मिलती है.

करारचंद्रम वैका कायाजम कर्मगम वी

श्रवणनजम वा मनामम वैद परामहम

विहितम विहिताम वीए सर मेट मेटाट

क्षासव जे जे करुणाबधे श्री महादेव शंभो

सावन में इस मंत्र का जप करना विशेष फलदायी माना गया है. सावन में हर रोज इस मंत्र का जप करने से सभी पापों से मुक्ति मिलती है और भगवान शिव भी प्रसन्न होते हैं. सावन में हर रोज इस मंत्र के जप से आत्मा की शुद्धि होती है और नकारात्मक शक्तियां दूर रहती हैं.

ओम नमः शिवाय

यह बहुत प्रचलित शिव मंत्र है. इस मंत्र का मतलब है, ‘मैं भगवान शिव को नमन करता हूं’. सावन में हर रोज इस मंत्र का 108 बार जप करने से आत्मा पवित्र होती है और भगवान शिव की कृपा मिलती है. साथ ही धन की प्राप्ति होती है और शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है.

शिव तांडव स्तोत्र

शिवपुराण के अनुसार, जो व्यक्ति सावन में हर रोज शिव तांडव स्तोत्र का जप करता है, उसे भोलेनाथ का आशीर्वाद प्राप्त होता है. किसी प्रकार की तंत्र, मंत्र और शत्रु परेशान कर रहा है तो शिव तांडव स्तोत्र आपके लिए काफी लाभदायक होगा. इसका पाठ करने से जीवन में विशेष उपलब्धियां प्राप्त होती हैं और हर क्षेत्र में कामयाबी मिलती है.

ओम तत्पुरुषाय विद्महे महादेवाय धीमहि तन्नो रुद्र: प्रचोदयात

यह बहुत शिव गायत्री मंत्र बहुत शक्तिशाली मंत्र बताया जाता है. सावन में हर रोज इस मंत्र का जप करने से सभी समस्याएं दूर होती हैं. यह मंत्र भगवान शिव के सभी रूपों की पूजा के लिए इस्तेमाल किया जाता है. सावन में हर रोज जप से भोलेनाथ की कृपा बनी रहती है और सभी तरह के रोग भी दूर रहते हैं.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindutva news live इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

RELATED ARTICLES

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने उच्च न्यायालय के अधिवक्ता दीपक शर्मा सुंफा को उप चुनाव से संबंधित एक अहम जिम्मेवारी सौंपी।

हिमाचल प्रदेश में हो रहे उपचुनाव के लिए हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने रामपुर बुशहर से संबंध रखने वाले एडवोकेट दीपक शर्मा सुंफा को...

सरबजीत सिंह बॉर्बी “उर्फ वेला बंदा” को आईजीएमसी से हटाना मानवता को शर्मसार करने जैसा :-एडवोकेट दीपक शर्मा सुंफा

IGMC लंगर सेवा द्वारा जो गरीबों और मरीज़ों को दो समय की रूखी सुखी रोटी मिलती थी वो भी प्रशाशन और मौजूदा सरकार को...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

आनी वश्ता रोड पक्का नही हुआ तो करेगे चुनावों का बहिष्कार

आनी: आनी वश्ता रोड का कार्य लगभग पिछले चार दशकों से चला रहा है जो आज दिन तक पक्का नही हुआ , लोगो मे...

खनाग स्कूल के विद्यार्थियों को गेस्ट लेक्चर से मिले आधुनिक शिक्षा के गुर

आनी: मधु शर्मा, आनी उपमंडल के शिखर पर स्तिथ जलोड़ी पास के साथ लगते राजकीय बरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय खनाग के छात्रों ने वोकेशन शिक्षा...

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने उच्च न्यायालय के अधिवक्ता दीपक शर्मा सुंफा को उप चुनाव से संबंधित एक अहम जिम्मेवारी सौंपी।

हिमाचल प्रदेश में हो रहे उपचुनाव के लिए हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने रामपुर बुशहर से संबंध रखने वाले एडवोकेट दीपक शर्मा सुंफा को...

कांग्रेस ने जारी किया उपचुनाव के लिए प्रत्याशी

बिग ब्रेकिंग - मंडी से प्रतिभा सिंह, अर्की से संजय अवस्थी, फतेहपुर से भवानी पठानिया और जुब्बल कोटखाई से रोहित ठाकुर होंगे कांग्रेस के...

Recent Comments